What is Affiliate Marketing – एफिलिएट मार्केटिंग क्या है और ये कैसे शुरू करें हिंदी में जाने

Affiliate Marketing पैसा कमाने के लिए सबसे लोकप्रिय और सफल तरीकों में से एक है। आप में से कई लोगों ने एक्टिव रूप से ऑनलाइन पैसा कमाने के बारे में कल्पना की होगी। जबकि वास्तव में आप लोग जो जीवन जीना चाहते हैं उसे हसी खुशी जीते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग Affiliate Marketing के साथ आप अपनी वेबसाइट, ब्लॉग या सोशल मीडिया के माध्यम से महत्वपूर्ण Income Generate कर सकते हैं।

affiliate marketing hinditechinfo

Affiliate Marketing की हकीक़त

एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) आपके ऑडियंस के लिए विभिन्न कंपनियों के Product को Promote करके या बढ़ावा देकर कमीशन बनाने का एक तरीका है।

आप अपने पसंदीदा Advertiser को चुनेंगे उन्हें अपने संभावित ग्राहकों के बीच प्रचारित करेंगे। और आपके द्वारा बेचे जाने वाले हर एक प्रोडक्ट से कुछ लाभ अर्जित करेंगे।

सबसे आसान और Simple स्तर पर Affiliate Marketing आपको अपने पसंदीदा एडवरटाइजर एवं सेवाओं और उपयुक्त Products या उत्पादों के लिए मार्केटिंग पर सहयोग करने की अनुमति देता है।

जिसके परिणामस्वरूप जब कोई खरीदार कोई वस्तु खरीदता है तो उसके द्वारा प्राप्त प्रॉफिट को शेयर किया जाता है।

Affiliate Marketing के साथ आप हमेशा उन उत्पादों और विज्ञापनदाताओं को बढ़ावा देना चाहते है।

और आप हमेशा इस बात पर पूर्ण नियंत्रण रखते हैं कि आप किसी भी प्रोडक्ट का कैसे प्रचार करते हैं। और अपने कस्टमर के मन को मोह लेते हैं।

Affiliate Marketing एक Profitable Platform है जहां पर आप लोगों को उनकी जरूरत की मोताबिक उन वस्तुओं को खोजने में मदद करते हैं।

जिसके बदले में आपको भुगतान मिलता है और आपके पसंदीदा Advertiser को उन यूजर तक पहुंचने का मौका मिलता है।

इससे भी बेहतर, एक बार जब आपकी ऑडियंस आपके द्वारा Recommended Product की जांच करने के लिए आपके Affiliate Links पर क्लिक करती है।

तो आपको अगले कई हफ्तों के लिए उनकी सभी खरीदारी पर एक कमीशन मिलता है। क्योंक आपके Affiliate Links की Cookies उनके डिवाइस में इनस्टॉल हो जाती है।

Affiliate Marketing में कौन-कौन से लोग शामिल है?

Affiliate Marketing से जुड़े वास्तव में 4 पक्ष होते हैं। इनमे सबकी की एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। और सब एक महत्वपूर्ण तरीके से परिणाम का समर्थन करता है।

1. विज्ञापनदाता – Advertiser :- जिसे ब्रांड, विक्रेता या व्यापारी के रूप में भी जाना जाता है। यह वह पार्टी है जो उत्पाद बनाती और बेचती है।

लोकप्रिय विज्ञापनदाताओं में Amazon, Flipkart, AliExpress इत्यादि शामिल हैं।

2. Affiliate – एफिलिएट :- जिसे Publisher या Influencer कहा जाता है यह वह पार्टी है जो Advertiser के लिए उसके Product और Service का प्रचार करती है।

3. ग्राहक | Customer :- यह अंतिम उपयोगकर्ता है वह पार्टी जो उत्पाद को ऑनलाइन खरीदती है। और कई मायनों में Affiliate Marketing में सबसे महत्वपूर्ण पार्टी है।

बिना बिक्री के आप कोई भी इनकम शेयर नहीं कर सकते। इसलिए जब तक कोई सेल नही तबतक Advertiser या Affiliate कोई भी लाभ नही कमाते हैं।

4. एफिलिएट नेटवर्क | Affiliate Network :- वह पार्टी है जो Advertiser और Affiliate के संबंधों का प्रबंधन करती है। कमीशन जंक्शन (CJ) एक Affiliate Network के रूप में चुनने के लिए एडवरटाइजर की एक सूची प्रदान करता है।

आप Affiliate Marketing से कितना कमाई कर सकते हैं?

Affiliate में काम करने की Range एक व्यक्ति से लेकर पूरी कंपनी तक सम्मिलित हो सकते हैं। Affiliate Marketing की प्रक्रिया में बताए गए Knowledge, Scope के आधार पर Affiliate Marketing की Activities से एक महीने में 100$ से लेकर मिलियन डॉलर तक या उससे भी अधिक कमा सकते हैं।

वास्तव में अगर देखा जाए तो Affiliate Marketing से लगभग 20% लोग हर साल $1 मिलियन से अधिक कमाते हैं।

और 60% से अधिक लोग हर वर्ष $80,000 तक कमाते हैं। तो जैसा कि आप देख सकते हैं कि Affiliate Marketing एक कैरियर विकल्प के रूप में बहुत ही ठोस प्लेटफार्म है।

लेकिन यह कहना सही नहीं होगा कि Affiliate Marketing आसान है। सफलतापूर्वक Affiliate Marketing सीखने के लिए कई महीने या साल भी लग सकते हैं।

ये आपके उपर डिपेंड करता है। और हर वक्त बदलती हुई स्थिति से सर्वश्रेष्ठ लाने के लिए अनुकूल रहने की ज़रूरत है।

यह भी सच है कि आप किस तरह के Industries या Niche में काम करते हैं। साथ ही आप कितना टाइम स्पेंड करते हैं और इससे लोगों को कितना प्रभावित करते हैं।

Affiliate Marketing से पैसे कैसे कमायें

इस पोस्ट में हमने अबतक ये चर्चा की है कि Affiliate Marketing क्या है। और इसमें कौन-कौन से लोग शामिल है आप कितना कमा सकते हैं। लेकिन आप अभी भी Sure नहीं हैं कि Affiliate Marketing कैसे काम करता है। और यह सारा पैसा कैसे बनाया जाता है।

Affiliate Marketing में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको जिन 7 बुनियादी चीज़ों का पालन करना होगा वे निचे निम्नलिखित हैं।

Affiliate Marketing की बुनियादी Things

1- प्रभावी वेब लैंडिंग पेज बनाएँ – आप अपने यूजर को इकट्ठा करने के लिए एक खूबसूरत सा लैंडिंग पेज बनाये और उसमे प्रोडक्ट के बारे में कुछ नॉलेज शेयर करें। या आप एक अच्छी सी वेबसाइट या सोशल मीडिया पर भी अपने प्रोडक्ट को शेयर कर सकते हैं।

2- एक अच्छा एफिलिएट नेटवर्क चुनें – आप एक हाई क्वालिटी और भरोसेमंद एफिलिएट नेटवर्क चुनें। जहाँ आपको किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना ना करना पड़े।

3- सही Advertiser का चुनाव करें – आप अपने पसंदीदा Advertiser के Product को चुनें जो आपको लगता है कि आपके यूजर वास्तव में इस प्रोडक्ट को पसंद करेंगे और खरीदेंगे।

4- ट्रैकिंग लिंक/कोड प्राप्त करें – आप जो एफिलिएट नेटवर्क इस्तेमाल करते हैं आपको उनके नेटवर्क से एक ट्रैकिंग लिंक/कोड प्राप्त होता है। जिससे आप यूजर द्वारा ख़रीदे गए प्रोडक्ट का पता लगा सकते हैं।

5- Advertiser को प्रमोट करें – आप Advertiser को प्रमोट करें और संभावित ग्राहकों को प्रोडक्ट खरीदने के लिए उनके ट्रैकिंग लिंक को प्रोडक्ट Review या Banner Ads और कूपन के साथ शेयर करें।

6- बीके हुए प्रोडक्ट को ट्रैक करें – आप अपनी नेटवर्क वेबसाइट या ऐप पर लिंक पर कितने क्लिक और कितनी बिक्री हुई है ये सारी रिपोर्ट देख सकते हैं।

7- Campaign ऑप्टिमाइज़ करें – Campaign ऑप्टिमाइज़ करने से आप सीखते हैं कि कौन से कस्टमर चैनल और Advertiser आपके लिए सबसे अच्छा काम करते हैं। आप समय के साथ इसका प्रयोग करते हैं और सफलता काफार्मूला तलाश करते हैं।

1- प्रभावी वेब लैंडिंग पेज – Effective Landing Page बनाएँ

क्वालिटी कंटेंट बनाएँ – Affiliate Marketing में सफल होने के लिए आपको वेब पर कुछ नए नए तरीके खोजने होगें जो विजिटर के लिए रोमांचक, मजेदार, दिलचस्प और सहायक हो। यह तरीका सोशल मीडिया पर चैनल के माध्यम से, ब्लॉग के माध्यम, और ईमेल लिस्ट बनाकर या वेबसाइट के द्वारा कर सकते है।

आप एक प्लेटफार्म बना सकते हैं जो इन सभी चैनलों का एक साथ उपयोग करता है। सबसे सफल Affiliate Channel और वेबसाइट वे हैं जो बहुत मनोरंजक या उपयोगी हैं। और यूजर को बार-बार पीछे खींचती हैं। क्योंकि वे इस पोस्ट से काफी लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

अच्छी Niche चुनें – यदि आपके पास कोई अच्छा सा सब्जेक्ट या Niche है जिसके बारे में आपको बेतहाशा जानकारी है। और दुसरे लोगों को भी उस Niche में इच्छा है तो यह बहुत अच्छा है। यदि आप वेबसाईट पर कहीं इस विषय या Niche के बारे में पहले से ही Content बना चुके हैं तो फिर आप एक अच्छी शुरुआत के लिए तैयार हैं।

बच्चों के खिलोने (Baby Toys) कपड़े (Clothing) फैशन (Fashion) श्रृंगार (Jewelry) इलेक्ट्रॉनिक उपकरण (Electronic Accessories) स्वास्थ्य एवं व्यायाम (Exercise and Health) कुछ उपयुक्त Niche हैं।

अगर आप फैशन या नई तकनीक के बारे में इच्छा रखते हैं तो यह आपके लिए बहुत सहयोगी साबित होगा। यदि आप इस Niche पर काम करते हैं तो आप इस Niche से सम्बंधित प्रोडक्ट बेच कर अच्छा कमीशन कमा सकते हैं।

2. एक Best Affiliate Network चुनें और SignUp कैसे करें

Affiliate Marketing में सफल होने के लिए, आपको निश्चित रूप से एक अच्छे Affiliate Network के साथ Sign Up करना होगा।

यह Affiliate Marketer के कैरियर में सफलता और विफलता के बीच अंतर कर सकता है। देखा जाये तो Affiliate Network के बहुत से Resources हैं।

अपनी पसंद के समय निम्नलिखित तत्वों पर विचार करना सबसे अच्छा है। और साथ में ये भी सुनिश्चित करें आपको जो नेटवर्क प्रोवाइड किया गया है आप उससे Sure हैं।

Advertiser द्वारा आपके यूजर के लिए जो ऑफ़र प्रोवाइड किया गया है वह उनके लिए उचित है।

प्रोडक्ट पर High Commission दर हो। Advertiser और Affiliate Marketer के बीच भरोसेमंद गुडविल हो।

Payment सिस्टम काफी फ़ास्ट हो। तकनीकी और मार्केटिंग (Technical and Marketing) की सहायता आपकी पसंद की भाषा में उपलब्ध हो।

विशेष छूट और कूपन प्रावधान हो जो आप अपने यूजर को दे सकते हैं।

चलते-फिरते अपनी सोशल मीडिया पोस्ट से कमाई करने के लिए मोबाइल ऐप का होना।रिपोर्टिंग सिस्टम Reporting System जहां आप Real Time में अपनी कमाई की जांच कर सकते हैं।

3. सही Advertiser का चुनाव कैसे करें

आपको एक Advertiser और कुछ Exclusive Product को ढूंढना होगा जिनका आप प्रचार करना चाहते हैं।

आपके लिए सबसे अच्छे प्रोडक्ट वे साबित हो सकते हैं जिनसे आप पहले से ही परिचित हैं। निचे एक छोटी चेकलिस्ट दी गई है जो आपको यह तय करने में मदद करेगी कि आपके प्रमोट के लिए कौन से Advertiser सबसे अच्छे हैं।

आपकी Audience – क्या प्रोडक्ट वास्तव में यूजर की मदद करेगा और उन्हें आभारी बनाएगा कि आपने जो प्रोडक्ट उनके साथ शेयर किया है?

मूल्य और क्वालिटी – आप जिस प्रोडक्ट को दूसरों को खरीदने के लिए कह रहे हैं। क्या आप अपने सबसे अच्छे दोस्त को इसे खरीदने के लिए कहेंगे? क्या आप अपनी बहन या भाई को इसे खरीदने देंगे?

कमीशन की दर – क्या Advertiser इतना अधिक कमीशन देता है कि इसे आपके प्रमोट करने के लिए उपयुक्त बनाया जा सके?

4. अपने Affiliate Marketing के Tracking Code/Link कैसे प्राप्त करें

आप अपने नेटवर्क से चुने गए एडवरटाइजर के लिए अपने ट्रैकिंग लिंक और कोड प्राप्त कर सकते हैं। ट्रैकिंग लिंक एक Affiliate Network को एक एडवरटाइजर के Web Address के साथ जोड़ते हैं।

और जब उसपर क्लिक किया जाता है तो यूजर के ब्राउज़र में एक Cookies Save यह कुकी कोड का एक टुकड़ा है।

जो Advertiser को उस Affiliate-ID को कमीशन क्रेडिट करने के लिए कहता है। जिसे ग्राहक बाद में खरीदता है – कूकीज की समय अवधि 30 दिनों की या 90 दिनों की होती है। कूपन एट्रिब्यूशन कोड, जिसे कभी-कभी कूपन रिडेम्पशन के रूप में जाना जाता है।

इस कोड का उपयोग ग्राहक द्वारा चेकआउट पर उनकी खरीद पर मूल्य में छूट प्राप्त करने के लिए किया जाता है। और एडवरटाइजर को यह भी बताता है कि कौन सा कमीशन एफिलिएट के साथ क्रेडिट करता है।

5. Advertiser को Best तरीके से Promote करें

Affiliate Marketing के साथ किसी Product को बढ़ावा देने के कई तरीके हैं। वेबसाइटों के लिए विभिन्न प्रकार के YouTube चैनल या थीम हैं।

प्रत्येक Affiliate को यह पता लगाना होगा कि उनके लिए उनके ऑडियंस के लिए प्रोडक्ट क्या काम करता है।

यहाँ कुछ अधिक लोकप्रिय और सफल विचार हैं जिनका लोग Affiliate Marketing में उपयोग कर रहे हैं।

  • प्रोडक्ट रिव्यु- प्रोडक्ट की रिव्यु YouTube, ब्लॉग, वेबसाइट या किसी अन्य प्लेटफार्म पर की जा सकती है। और प्रोडक्ट के साथ अपने अनुभव को बताएं।
  • प्रोडक्ट को दिखाएँ और बताएं – YouTube, Instagram, Facebook, Twitter या Snapchat पर प्रोडक्ट का उपयोग करके यूजर को दिखाएं। अपने Follower को इसे आपके द्वारा शामिल दिए गए Affiliate Link से खरीदने के लिए कहें।
  • Product अनबॉक्सिंग – एक वीडियो में आप यूजर को नए प्रोडक्ट का बॉक्स खोलते हुए दिखाएं। जिससे आपके यूजर को आपके साथ ही आपके पहले इम्प्रैशन का अनुभव होगा।
  • Product प्लेसमेंट – आप स्वाभाविक रूप से जब भी कोई पोस्ट या Content लिखते हैं। और उसे अपने ब्लॉग या वेबसाइट या किसी अन्य प्लेटफार्म शेयर करते हैं। तो उससे सम्बंधित प्रोडक्ट की लिंक को जोड़ सकते हैं।

हैशटैग व बैनर

  • हैशटैग HashTag – अगर आप सोशल मीडिया वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं। तो #हैशटैग विशेष रूप से ट्विटर और इंस्टाग्राम पर पोस्ट करते समय ज़रूर इस्तेमाल करें। हैशटैग लगाने से आपकी पोस्ट को आसानी से खोजा जा सकता है।
  • बैनर विज्ञापन दिखाएं – आपकी वेबसाइट पर लिखी गयी पोस्ट को अपने ऑडियंस के बीच लाने के लिए किसी एडवरटाइजर या Google को पेमेंट करके प्रचार कर सकते हैं।
  • ईमेल मार्केटिंग या न्यूज़लेटर – जब आप एक न्यूज़लेटर डालते हैं तो आप Recommended Product या Coupon के लिए Affiliate Link डाल सकते हैं। यह उन सभी ईमेल पतों से पैसे कमाने का एक शानदार तरीका है। जिन्हें आप उम्मीद से अपनी वेबसाइट से एकत्रित कर रहे हैं।
  • कूपन Coupon – आप अपने ऑडियंस को प्रोडक्ट में छूट के लिए कूपन कोड दे सकते हैं। Discount Coupon Code से लोगों को प्रेरित करने का एक शानदार तरीका है।
  • Paid प्रमोशन करना – पेड प्रमोशन करने के लिए आप Google, Facebook, Instagram का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन सावधान रहें जब आप अपने पीपीसी (भुगतान-प्रति-क्लिक) Ads में एडवरटाइजर के ट्रेडमार्क नाम का उपयोग ना करें।

6. Sales हुए Product को Track करें

आपको अपने एफिलिएट नेटवर्क डैशबोर्ड पर अपने क्लिक, बिक्री और कमीशन को आसानी से ट्रैक करने और ऑफ़लाइन उपयोग के लिए एक्सेल में रिपोर्ट डाउनलोड करने की पूरी सुविधा उपलब्ध होती है।

7. कैसे Affiliate Campaign ऑप्टिमाइज़ करें

अगर आपके पास डेटा है तो ये समझ लीजिये कि आपके पास ऑनलाइन पैसा कमाने की कुंजी है।

एक सफल Affiliate Marketing प्रोग्राम चलाने के लिए आपको अपने नेटवर्क के Report System में अपनी Sales और Conversion को ट्रैक करना होगा।

और फिर अपने campaign में थोडा बदलाव करें। ताकि यह देखा जा सके कि कुछ बेहतर हो रहा है या नही। आप इसको 4 खम्बे की मानिंद समझें और सोचें। एक Affiliate Marketer को निम्नलिखित 4 एलिमेंट को ज़रूर फॉलो करें।

1- ट्रैफिक-Traffic 2- एडस-Ads 3- ऑफ़र-Offers 4- लैंडिंग पेज-Landing Page- इत्यादि।

आप Affiliate Marketing में तभी सफल हो पाएंगे जब आप सही ऑडियंस को सही Ads दे पाएंगे। इससे आपका Campaign भी सफल तभी होगा जो उन्हें बिल्कुल सही Advertiser की वेबसाइट और पेज पर Redirect करेगा।

Audience द्वारा पूछे जाने वाले सामान्य प्रश्न (FAQ)

मैं Affiliate Marketing से Payment कैसे प्राप्त करूं?

आपको यह महसूस करना महत्वपूर्ण है कि आमतौर पर पेमेंट की न्यूनतम राशि (जैसे 100$ या 50$) भी होती है। जब ये अमाउंट आपके Affiliate अकाउंट में हो जाएंगे।

तो उस राशि को Advertiser आपके बैंक खाते में जमा कर देता है। इसलिए यह प्रत्येक Associate से विनम्र निवेदन करते हैं कि Affiliate Marketing की शुरुआत मजबूती से करें।

और अपना पहला $100 बनाएं। ताकि आप वास्तव में अपने किये गए प्रयासों से लाभ महसूस करना शुरू कर सकें।

कुछ शर्तें आपको पता होनी चाहिए

कुकी Cookie- एक वेबसाइट से भेजा गया डेटा यूजर के कंप्यूटर के वेब ब्राउज़र में सेव कर लेता है।

कुकी उपयोगकर्ता की Registration Priorities की जानकारी और शॉपिंग कार्ट सामग्री जैसी जानकारी Save करती है। 

जब कोई यूजर आपकी वेबसाइट पर आता है और आपके Affiliate Link पर क्लिक करता है। तो उनके ब्राउज़र में एक Cookie रख दी जाती है। उस Cookie का उपयोग विज़िटर द्वारा क्लिक किए गए लिंक को याद रखने के लिए किया जाता है।

भले ही वे आपकी वेबसाइट छोड़ दें और खरीदारी करने के लिए बाद में वापस आएं। और फिर उस Product को खरीदते हैं तो आपको खरीदारी के लिए कमीशन प्राप्त होगा।

Cookie की Life – कुकी की अवधि जिसे “Cookie जीवन” के रूप में भी जाना जाता है। ये एडवरटाइजर पर निर्भर करता है और Advertiser के नियमों और शर्तों में Delineate किया जाएगा।

उदाहरण के लिए, यदि Cookie की लाइफ 10 दिनों की है। तो जब कोई आपके Affiliate Link पर क्लिक करता है और वह Product 10 दिनों के भीतर खरीदता है तो इसका कमीशन का भुगतान आपको किया जाएगा।

कमीशन

Commission – कमीशन – Revenue का वह हिस्सा Affiliate को तब प्राप्त होता है जब वे किसी Advertise की वेबसाइट पर किसी को रेफर करते हैं।

और कोई व्यक्ति इसमें में जानकारी सबमिट करता है या Product खरीदता है। तो यहां आपको कुछ कमीशन मिलेगा।

सीपीए- CPA(Commission Per Action – यह एक पहले से तय राशि है जो Affiliate को तब प्राप्त होती है जब कोई Product खरीदता है। चाहे खरीदे गए Product की राशि कुछ भी हो।

उदाहरण : $7 CPA वाले ऑफ़र पर, एक ग्राहक $10 का कुछ खरीदता है और दूसरा $1000 खरीदता है। तो ऐसे में एफिलिएट का commission $7 * 2 = $14 होगा।

सीपीएस- CPS(Commission Per Sale) – यह बिक्री राशि का एक प्रतिशत है जो Affiliate को प्राप्त होता है। और खरीद राशि के अनुसार बड़ा या छोटा हो सकता है।

उदाहरण : एक ग्राहक 10% CPS के साथ $1000 का माल खरीदता है। तो Affiliate को $100 का Commission मिलता है।

सीपीएल- CPL(Commission Per Lead) – यह एक निर्धारित राशि है जो Affiliate को प्रति लीड प्राप्त होती है।

उदाहरण: एक Affiliate एक Advertiser को $2 CPL के लिए 25 लीड का रेफर देता है तो उन्हें $50 तक का कमीशन मिलता है।

कुछ Affiliate Marketing

निचे आपको कुछ Affiliate Marketing नेटवर्क दिए गये जिसे ज्वाइन कर सकते है।

Commission Junction – ज्वाइन करें

ClickBank – ज्वाइन करें

हम आशा करते हैं कि आपने HindiTechInfo.co पर Affiliate Marketing के बारे में पढ़कर ज़रूर कुछ सिखा होगा।

यदि आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया कर के आप इसे अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करें। 

Leave a Comment